40.1 C
New Delhi
Monday, May 16, 2022
HomeLIFE STYLEVastu Tips: वास्तु शास्त्र में उल्लू का भी है जिक्र, जानिए कैसे...

Vastu Tips: वास्तु शास्त्र में उल्लू का भी है जिक्र, जानिए कैसे ये पक्षी बदल सकता है किस्मत


Image Source : FREEPIK
Vastu Tips

Vastu Tips: वास्तु शास्त्र में उल्लू का खास महत्व है। मां लक्ष्मी का वाहन उल्लू आपके जीवन में क्या प्रभाव डालता है? इस बारे में आज हम जानने की कोशिश करेंगे। यूं तो उल्लू को माता लक्ष्मी का वाहन माना जाता है, फिर भी वास्तु मान्यताओं में कभी किसी जगह पर इसे शुभ माना जाता है तो कही उल्लू की मौजूदगी आपके लिए अशुभ संकेत साबित हो सकते हैं। आइए जानते हैं वास्तु शास्त्र में उल्लू को लेकर हमारे जीवन में पड़ने वाले प्रभाव के बारे में।  

उल्लू को लेकर होने वाले शुभ संकेत

  • उल्लू यूं तो आसानी से नजर नहीं आता है। मगर उल्लू से कभी आपकी नजरें मिल जाएं तो समझ लीजिए की बेहिसाब धन की प्राप्ति होने वाली है।
  • उल्लू को लेकर यह मान्यता है किसी असाध्य रोग से ग्रसित व्यक्ति को यदि उल्लू से स्पर्श हो जाता है, तो वह व्यक्ति उस गंभीर बीमारी से ठीक हो जाता है।
  • सुबह के समय यदि उल्लू पूर्व दिशा की ओर दिखाई दे या उसकी आवाज सुनाई दे तो यह धन की प्राप्ति के संकेत हो सकते हैं।

उल्लू को लेकर अशुभ मान्यताएं

  • उल्लू को अपने दाहिने तरफ देखना या बोलना हमेशा अशुभ माना जाता है। इसलिए जब भी उल्लू की आवाज सुनाई देती है तो इसे अशुभ संकेतों में माना जाता है।
  • उल्लू किसी की छत पर बैठकर आवाज देने लगे तो यह बेहद ही अशुभ संकेत होते हैं। ऐसी मान्यताएं हैं किसी के छत पर उल्लू के बैठने से उस घर के किसी सदस्य की मौत की तरफ इशारा है।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इंडिया टीवी इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है। इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है।)

यहां पढ़ें

Vastu Tips: घर में लगाएं तुलसी का पौधा, नहीं होगी धन की कमी

Vastu Tips: इस दिशा में रखें फ्रिज, हो जाएंगे मालामाल, जाग जाएगी सोई हुई किस्मत

!function (f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq)
return;
n = f.fbq = function () {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments);
};
if (!f._fbq)
f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s);
}(window, document, ‘script’, ‘//connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘1684841475119151’);
fbq(‘track’, “PageView”);



Source link

RELATED ARTICLES
%d bloggers like this: