38.1 C
New Delhi
Tuesday, May 17, 2022
HomeENGLISHTOP STORIESMundka Delhi Fire News: Family Searching For Daughter Whose Father Died Due...

Mundka Delhi Fire News: Family Searching For Daughter Whose Father Died Due To Covid Last Year- मुंडका अग्निकांड: पिता को पिछले साल कोरोना ने छीन लिया, मलबे में परिवार तलाश रहा बेटी का ‘शव’

नई दिल्‍ली: बीस वर्षीय सुमन के पिता की ठीक एक वर्ष पहले उसी अस्पताल में कोविड-19 से मृत्यु हो गई थी, जहां उसके परिवार के सदस्य अब उसका शव मिलने के इंतजार में हैं। बाहरी दिल्ली के मुंडका में एक इमारत में लगी आग ने परिवार पर कहर बरपाया है।सुमन उस इमारत में स्थित एक कंपनी में कार्यरत थी जिसमें शुक्रवार को आग लग गई थी। सुमन के परिजन कई घंटे से उसके बारे में जानकारी प्राप्त करने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन उन्हें अभी तक कोई सफलता नहीं मिली है। परिजनों ने खुद को सबसे बुरी स्थिति के लिए तैयार किया और आज वे मंगोलपुरी स्थित संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल के शवगृह पहुंचे ताकि कम से कम बेटी का शव मिल सके। सुमन के एक रिश्तेदार ने कहा, ‘वह शायद अब दुनिया में नहीं है। शव जले हुए हैं, आप उन्हें नहीं देख सकते। आप कैसे पहचानेंगे? मैं सुमन की तलाश में गया था, लेकिन इसका कोई लाभ नहीं हुआ।’ उन्होंने कहा कि चिकित्सकों ने उन्हें सूचित किया कि अब शवों की पहचान डीएनए जांच से की जाएगी।

सुमन की मां अस्पताल के प्रवेश द्वार के पास बैठी हुई थीं। रिश्तेदार ने कहा, ‘पांच लोगों का परिवार था। अब केवल तीन सदस्य बचे हैं। मां की हालत ठीक नहीं है। वह बात करने में असमर्थ हैं। उन्होंने पिछले साल अपने पति को खो दिया था। अब, शायद उनकी बेटी भी नहीं है। उनका जीवन बिखर गया है।’

मुंडका की आग में 29 अब तक लापता, खोज में भटक रहे घरवाले
चार मंजिला इमारत में लगी आग के एक दिन बाद भी बदहवास रिश्तेदार हादसे के दौरान मौजूद अपने घरवालों की तलाश में भटक रहे हैं। पुलिस का कहना है कि 29 लोगों का अब भी पता नहीं चला है। घटना में 27 लोगों के शव मिले हैं, जिनमें से 6 की ही पहचान हो सकी है। इसके बाद इस भयानक अग्निकांड में मरनेवालों की तादाद बढ़कर 30 तक हो सकती है।

आउटर डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी ने कहा कि जिन शवों की पहचान नहीं हो पाई है, उनका डीएनए टेस्ट कराया जाएगा। जिनकी मिसिंग रिपोर्ट दर्ज हुई है, उनमें 24 महिलाएं हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को घटनास्थल का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने अग्निकांड की मैजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही, मृतकों के परिवारवालों को 10-10 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने का ऐलान भी किया। पुलिस ने कहा कि CCTV कैमरे और राउटर बनाने वाली कंपनी के मालिक हरीश गोयल और उनके भाई वरुण गोयल को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Source link

RELATED ARTICLES
%d bloggers like this: