38.1 C
New Delhi
Tuesday, May 17, 2022
HomeLIFE STYLEBenefits Fo Ajwain In Summer Know How To Use Ajwain In Food...

Benefits Fo Ajwain In Summer Know How To Use Ajwain In Food During Summer


Benefits Of Ajwain In Summer: अजवाइन एक ऐसा मसाला है, जिसका उपयोग ज्यादातर भारतीय घरों में होता है. लेकिन अजवाइन तासीर में बहुत गर्म होती है, इसलिए ज्यादातार लोग इसे सिर्फ सर्दी के मौसम में ही अपने भोजन में शामिल करते हैं. लेकिन गर्मी में भी इस मसाले का उपयोग करना लाभकारी होता है. बस सर्दियों की तुलना में कम मात्रा में इसका उपयोग करना चाहिए और साथ ही थोड़े अलग तरीके से उपयोग करना चाहिए. इस बारे में आप यहां जान सकते हैं…

गर्मी में अजवाइन खाने के फायदे

गर्मी के मौसम में बने हुए भोजन में बहुत जल्दी कॉन्टेमिनेशन शुरू हो जाता है. यानी बना हुआ भोजन जब ठंडा हो जाता है तो इसमें बहुत जल्दी बैक्टीरिया ग्रो करने लगते हैं. ऐसे में जब आप इस भोजन को खाते हैं तो यह पेट और पाचन को खराब कर देता है. इससे लूज मोशन, पेट दर्द, उल्टी, मितली या डायरिया जैसी समस्याएं हो जाती हैं. ऐसे में अजवाइन का सेवन यदि आप रेग्युलर तरीके से करते हैं तो पेट में पहुंचकर भी ऐसे बैक्टीरिया आपको हानि नहीं पहुंचा पाते हैं.

अजवाइन के उपयोग की विधि

गर्मी के मौसम में अजवाइन का सेवन दवाई के रूप में करना सबसे बेहतर रहता है. जैसे, सर्दी के मौसम में आटे में गूथकर या सब्जी में रेग्युलर रूप से तड़का लगाकर अजवाइन का सेवन किया जाता है, गर्मी में ऐसा करने से अधिक गर्मी लगने की आशंका बनी रहती है. इसलिए आप भोजन के बाद दिन में एक बार एक चौथाई चम्मच अजवाइन पानी के साथ निगल लें. इतना ही काफी है,आपके पेट और पाचन को दुरुस्त रखने के लिए और आपको मौसमी बीमारियों से बचाने के लिए.

घर में गमले में लगाई जाने वाली अजवाइन का भी आप सेवन कर सकते हैं. इसके दो पत्ते लेकर हर दिन किसी भी एक समय भोजन के बाद एक चुटकी काले नमक के साथ चबाकर खाएं. ऐसा करने से पाचन बेहतर रहेगा और पेट खराब नहीं होगा.

अजवाइन का रायता

अजवाइन उपयोग करने की एक और विधि यह है कि आप तबे पर अजवाइन और जीरा बराबर मात्रा में भूनकर रख लें.  इसे तबे पर बिना ऑइल के भूनना है. जब ये अच्छी तरह रोस्ट हो जाए तो इन्हें इमामदस्ते में कूट लें या फिर मिक्सी में दरदरा पीसकर पाउडर बना लें. अब आप जब भी रायता बनाएं या दही खाएं तो इस मिश्रण को रायते में डालकर उपोयग करें. दही और रायते का स्वाद भी बढ़ जाएगा और आपका पाचन भी बेहतर बनेगा.

 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, एबीपी न्यूज़ इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

यह भी पढ़ें: आप पूरे दिन थके हुए रहते हैं? वजह हैं ये 10 आदतें

यह भी पढ़ें: अनदेखा करने पर खतरनाक रूप ले सकती है कैविटी, जानें बचाव के उपाय

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

RELATED ARTICLES
%d bloggers like this: