40.1 C
New Delhi
Monday, May 16, 2022
HomeENGLISHSTATE8 से 10 लाख में बेचे गए BPSC के प्रश्‍न पत्र EOU...

8 से 10 लाख में बेचे गए BPSC के प्रश्‍न पत्र EOU ने किया बड़ा खुलासा, लैपटॉप सहित कBPSC question paper sold for 8 to 10 lakhs, EOU made a big disclosure, many bank accounts including laptops seizedई बैंक खाते सीज


बिहार लोक सेवा आयोग की संयुक्त (प्रारंभिक) प्रतियोगिता परीक्षा के प्रश्न-पत्र वायरल होने के मामले में आज ईओयू ने बड़ा खुलासा किया है। ईओयू ने प्रश्‍न पत्र लीक कराने वाले गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से बड़ी संख्या में प्रश्‍न-पत्र लीक कराने में प्रयोग होने वाले उपकरण और प्रश्नपत्र का उत्तर बताने में सहायक उपकरण भी बरामद किए हैं।

 

गिरोह के पास से बरामद सामान
पटना : ईओयू (अनुसंधान आर्थिक अपराध इकाई ) ओर से जांच में प्रश्‍न और उत्तर बताने के लिए ये डील 8 से 10 लाख रुपए में की गई थी। इसके लिए पूरी तरह से एक संगठित गिरोह काम कर रहा था। जांच में ये जानकारी निकल कर सामने आई कि हर कैंडिडेट से 10-10 लाख रुपए तक लिए गए। इन पैसों को अलग-अलग खाते में मंगवाया गया। EOU ने इस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। साथ ही इनके पास से कई बैंक अकाउंट्स की जानकारी मिली। जिन्‍हें भी सीज कर लिया है। BPSCPaperLeak में बड़ा खुलासा करते हुए EOU ने BPSC में सफलता दिलाने के नाम पर हर कैंडिडेट से 8 से 10 लाख रुपए लिए जाने की पुष्टि की है। EOU ने इस मामले में छात्र नेता दिलीप और आईएएस अधिकारी को प्रश्‍न पत्र भेजने वाले शातिर को गिरफ्तार कर लिया है।

बिहार में BPSC PT परीक्षा की खुल गई पोल, आरा में घोर लापरवाही, भविष्य से खिलवाड़ करनेवालों पर होगी कार्रवाई?

सीज किए गए कई बैंक अकाउंट्स
ADG के अनुसार गिरफ्तार किए कए सभी लोगों से लंबी पूछताछ की गई है। इनके ठिकानों पर छापेमारी की गई। वहां से पेपर चोरी करने के कई उपकरण भी बरामद किए गए हैं। साथ ही बड़े पैमाने पर कैश की बरामदगी भी की गई है। गिरोह के सदस्‍यों से पूछताछ और छापेमारी के दौरान इनके कई बैंक अकाउंट्स का पता चला है। इन्हीं बैंक खातों में डील के अनुसार कैंडिडेट्स से रुपए लिए जाते थे। ईओयू की जांच में पता चला है कि इन खातों से लाखों रुपए ट्रांसफर किए गए हैं। फिलहाल EOU हर खाते की गहनता से जांच कर रही है। पैसा डालने वालों की भी जांच की जा रही है। फिलहाल सभी खातों को सीज कर दिया गया है।

‘बिहार राज्य Leak आयोग नाम कर देना चाहिए’

पहले भी गिरफ्तार हो चुका है सरगना
आर्थिक अपराध इकाई की जांच में संगठित आपराधिक गिरोह की भूमिका आई सामने। ईओयू ने पेपर लीक कांड का उद्भेदन कर लिया है। टीम ने गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पटना विकास भवन के कृषि विभाग में तैनात राजेश कुमार को जगदेव पथ से, निशीकांत कुमार राय को वैशाली के हाई स्कूल, देसरी के शिक्षक कृष्ण मोहन सिंह और औरंगाबाद से सुधीर कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया है। आर्थिक अपराध इकाई ने बताया कि यह गिरोह लोहानीपुर में बैठकर लाया जा रहा था। यहीं इसका कंट्रोल रूम बनाया गया था। गिरोह का सरगना आनंद गौरव उर्फ पिंटू यादव एनआईटी पटना से स्नातक है। 2015 में इलाहाबाद के अध्यापक भर्ती घोटाला में भी आनंद गौरव उर्फ पिंंटू को गिरफ्तार किया जा चुका है। इसके ऊपर 2020 में हुए मुंगेर हत्याकांड का भी आरोप है।

BPSC Paper Leak 2022: परीक्षा से पहले कैसे लीक हुआ बीपीएससी का पर्चा, जांच करेगा साइबर सेल

पेपर लीक में प्रयोग होने वाले सामान बरामद
पेपर लीक कराने में प्रयोग होने वाले ढेरों सामान और इलेक्‍ट्रॉनिक उपकर बरामद हुए हैं। गिरफ्तारी के लिए चल रही छापेमारी में गिरोह के पास से मॉडर्न उपकरण, हिडेन पेन कैमरा, ब्लूटूथ डिवाइस और दूसरे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बरामद किए गए है। ईओयू के ने इनके पास से 292000 रुपए कैश जब्त और बैंक के 6 पासबुक भी जप्‍त किए हैं। शातिर गिरोह के पास से 152 GPS डिवाइस, एक पेन कैमरा, एक मेटल डिटेक्टर एक लैपटॉप, 5 पेन ड्राइव 16 ईयर फोन और 30 से अधिक मोबाइल सिम जप्‍त किया गया है।

आसपास के शहरों की खबरें

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : bpsc question paper sold for 8 to 10 lakhs, eou made a big disclosure, many bank accounts including laptops seized
Hindi News from Navbharat Times, TIL Network



Source link

RELATED ARTICLES
%d bloggers like this: