38.1 C
New Delhi
Tuesday, May 17, 2022
HomeENGLISHTOP STORIESप्रतिबंध के बाद भी जारी है पक्का निर्माण कार्य - Damoh News:...

प्रतिबंध के बाद भी जारी है पक्का निर्माण कार्य – Damoh News: प्रतिबंध के बाद भी जारी है पक्का निर्माण कार्य

Publish Date: | Fri, 13 May 2022 11:16 PM (IST)

तेंदूखेड़ा(नईदुनिया न्यूज)। एक तरफ जिलेभर में कई जगह पेयजल की समस्या व्याप्त है तो दूसरी तरफ कलेक्टर द्वारा किसी भी जगह शासकीय पक्के निर्माण कार्यों पर रोक लगाई गई है लेकिन इसके बाद भी कलेक्टर के आदेश को धता बताते हुए पंचायत में निर्माण कार्य कराया जा रहा है। वहीं जबावदार अधिकारी इन निर्माण कार्यो को लेकर चुप्पी साधे हुए है। ग्राम पंचायत में रहने वाले ग्रामीणो के विकास उनको सुविधाओं के साथ रोजगार देने की बात ग्राम पंचायत के कर्मचारी करते है लेकिन यह सब कागजों पर होता है हकीकत में ऐसा कोई कार्य मौका स्थल पर तो मिलता नही है। जमीनीस्तर पर तो आजकल ग्राम पचायतों में बाहरी लोगों के आय का साधन बन गई है जिन पर न तो किसी अधिकारी के आदेश का फर्क पड़ता है न ग्रामीणों के परेशानी दिखती है। एक ऐसी ही ग्राम पचायत की दो तस्वीरे दिखाते है उन तस्वीरों से आप खुद यह समझ जायेंगे की ग्राम पंचायत में क्या हो रहा है।

जिस मामले की हम बात कर रहे है वह तेंदूखेड़ा जनपद की ग्राम पंचायत दरौली का है यहां ग्राम के लोग पानी को परेशान है और दोपहर के समय आंगनबाड़ी के पास एक बोर है उसके पास खड़े हो जाते है फिर बोर चालू होता है उसके बाद ग्रामीण पानी भरते है। मौके पर मौजूद महिलाओं ने बताया कि गर्मियों में उसके ग्राम में पानी की बड़ी समस्या है पानी का एक मात्र स्रोत बोर है इसलिये इसी जगह सभी एकत्रित हो जाते है। हम यदि दूसरी तस्वीर की बात करे तो इसी ग्राम पंचायत में कलेक्टर के निर्देश के बाद भी पक्के निर्माण कार्य हो रहे है जिनमें नगरीय क्षेत्र में मजदूर कार्य कर रहे है साथ ही ग्राम में जब पानी की समस्या बनी हुई है पानी नही है तो पक्के निर्माण कार्य में किस जगह से पानी सिंचाई के लिये आयेगा यह सोचने की बात है।

मौके पर नही मिला कोई : एक तरफ ग्रामीण पेयजल को लेकर परेशान है तो दूसरी तरफ पक्का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। ग्राम पंचायत दरौली में नियम विरूद्ध कार्य हो रहा है क्योंकि पक्के निर्माण कार्य पर कलेक्टर ने रोक लगाई है फिर भी कार्य चल रहे है। जिस जगह यह निर्माण कार्य किया जा रहा था वहां पर ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक, सरपंच कोई भी मौजूद नहीं था। फिर किसकी निगरानी में यह कार्य चल रहे है यह सोचने की बात है। वही पूरे मामले में सहायक यंत्री केपी पटैल से बात की तो उन्होंने बताया की जिन ग्रामों में पानी है वह निर्माण कार्य हो सकते है दरौली में जब पानी की समस्या है और वह निर्माण कैसे हो रहे है तो उनका कहना था कि वह देखते है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local

 

Source link

RELATED ARTICLES
%d bloggers like this: